What are Large, Medium and Small caps Companies in Indian Stock Market in Hindi

What are Large, Medium and Small caps Companies in Indian Stock Market | In Hindi |

Stock market में जब भी नए निवेशक उतरते है तो उनके दिमाग में बहुत सारे सवाल होते है। निवेशकों को स्टॉक मार्किट में उतरने से पहले उसकी उचित जानकारी होना बेहद जरुरी है। Proper knowledge से ही निवेशक Decision ले पाते है की उन्हें किस Company के stocks को लेना चाइए। उचित जानकारी के बिना Stock market में Invest करना बेहद Risky हो सकता है जिसकी वजह से निवेशक Profit कमाने की जगह Loss खा बैठते है। स्टॉक मार्किट में किस कंपनी में कितना Risk हो सकता है इसे जानना बेहद जरुरी हो जाता है। Stock Market में Risk के हिसाब से Companies को अलग अलग Categories में उसकी Market Capitalization के According बाँटा जाता है।

Stock market में Companies को उसकी  Market Capitalization के हिसाब से Large Cap,Medium Cap और Small Cap में बाँटा जाता है। यह विभाजन Investors के लिए बहुत ज्यादा मदगार साबित होता है। आज आप इस आर्टिकल में detail में जानेगे की Large Cap,Medium Cap और Small Cap क्या होती है।

What is Investment (in Hindi)

What is Trading (in Hindi)

Market Capitalization क्या होता है (What is Market Capitalization in Hindi)

 

किसी भी कंपनी के outstanding Shares को उसके Current Price से Muliply करने पर उस कंपनी की Valuation निकल कर आती है। एक साधारण से Example से इसे समझने की कोशिश करते है।

मन लीजिये एक कंपनी है XYZ जिसके कुल outstanding Shares 100000 है और उस कंपनी के एक शेयर की किम्मत आज के समय में 100रुपए है। XYZ कंपनी की Market कैपिटलाइजेशन होगी :-

Market Capitalization of XYZ:-

outstanding Shares*Value of a Single Share
100000*100=10000000 रुपए 

इस तरह से XYZ Company की वैल्यूएशन एक करोड़ होगी।

Stock market में listed Companies को इसी आधार पर Mainly तीन Categories में बाँटा जाता है। Large Cap, Medium Cap और Small Cap

Large Cap Stocks

Large Cap में ऐसी कम्पनीज आती है जिनकी Market Cap 20000 करोड़ या इससे ऊपर हो। Large Cap comapnies अपने बिज़नेस में बहुत Stable होती है। ऐसी कम्पनीज बहुत सालो से अपना बिज़नेस कर रही होती है और stablilty बहुत अच्छी  होती है जिससे आर्थिक मंदी के दौरान भी इन कंपनी के शेयर्स पर ज्यादा कोई फरक नहीं पड़ता।Large Cap में invest करने पर सबसे कम Risk होता है। अगर आप भी Minimum Risk पर निवेश करना चाहते है तो Large Cap companies के स्टॉक्स में निवेश Best Option है। Relaince inudstries और Infosys Large Cap के उदहारण है।

Medium Cap Stocks

Medium Cap में ऐसी कम्पनीज आती है जिनकी Market Cap 5000 करोड़ या इससे ऊपर हो लेकिन 20000 करोड़ से कम हो। Medium Cap में invest करना large Cap की तुलना में ज्यादा risky होता है। Medium Cap के Stocks में Large cap की तुलना में movement बहुत ज्यादा होता है। Medium cap के स्टॉक्स एक अच्छी ग्रोथ से बड़ा तगड़ा मुनाफा भी दे सकता है। Medium Cap की ज्यादा मूवमेंट ही investors को अपनी तरफ खिचती है  

Medium Cap के कुछ उदहारण है :- Castrol,Ceat Ltd,Central bank of India

Small Cap Stocks

Medium Cap में ऐसी कम्पनीज आती है जिनकी Market Cap 5000 करोड़ से कम हो। इनमे निवेश करना सबसे खतरनाक माना जाता है। Small Cap Companies के शेयर्स में एक दम से बहुत ज्यादा उछाल होती है जिससे एक अच्छी ग्रोथ की opportunity मिल सकती है। लेकिन ज्यादा Volatile होने की वजह से इसमें जोखिम बहुत ज्यादा होता है ।

Hindustan zinc और DB CORP small Cap कम्पनीज के कुछ उदहारण है।

 

 

Raj Kakkar

Raj is a Trader & Blogger by Passion. He loves to spread the information that helps to learn new skills...<a href="http://www.iamrajkakkar.com">Let's Succeed Together</a>

Leave a Reply

Your email address will not be published.